Ghost Story|Horror story|भूतिया ढाबा Hunted house

 भूतिया ढाबा Hunted house 🏠

भूतिया भिखारी   

 

 

Ghost Stories Hindi me Horror story
भूतिया ढाबा

 

 

Ghost Stories for kids in hindi रामगंज नामक शहर में पप्पू का ढाबा नाम का एक मशहूर ढाबा था यह ढाबा इतना मशहूर था कि वह दूर दूर से लोग खाना खाने आते थे।उस ढाबे का खाना खाकर लोग उसका स्वाद भूल नहीं पाते। अगर कोई भी उस गांव में किसी भी काम से आता तो ढाबे का खाना खाए बगैर नहीं जाता।
 
 
जितना ही वह ढाबा दिन पर दिन मशहूर होता जा रहा था उतना ही उस ढाबे के मालिक का भी घमंड बढ़ता जा रहा था। अगर ढाबे का खाना बचता था तो उसे उस खाने को फेंकना मंजूर था लेकिन किसी जानवर या भूखे भिखारी को मुफ्त में देना मंजूर नहीं था।
 
 एक दिन की बात है। एक भिखारी ढाबे के पास से जा रहा था वह काफी भूखा था उसने कई दिनों से कुछ नहीं खाया था । वह ढाबे के मालिक के पास गया। और उनसे हाथ जोड़कर विनती करने लगा कि उसे बहुत जोर से भूख लगी है। कुछ खाने को दे दो । लेकिन ढाबे के मालिक ने उसेअपने नोकरौ से बाहर निकालने के लिए कहा।
 
 भिखारी विनती करने लगा उसने बहुत दिनों से कुछ नहीं खाया है। और अब उसे कुछ नहीं मिला तो वह भूख की वजह से मर जाएंगा। लेकिन उसकी इस परिस्थिति पर भी किसी को दया नहीं आई। और उसे धक्के मार कर बाहर निकाल दिया।
 
जैसे ही उसे बाहर निकाला वह भिखारी जमीन पर गिर पड़ा और उठ नहीं पाया। ढाबे का नौकर उसके पास गया और उसने देखा कि वह भिखारी मर चुका था। नौकर दौड़ता हुआ आया और आकर अपने मालिक को बताया कि भिखारी ढाबे के बाहर मर गया है।  ढाबे का मालिक घबरा गया उसने सोचा कि लोगों के आने का वक्त हो रहा है इसलिए उसने अपने नौकर से कहा कि इस भिखारी को ले जाकर पीछे कुएं में डाल दो और किसी को पता ना चल पाए।
Ghost Stories for kids in hindi
नौकरों ने ऐसा ही किया उस भिखारी की लाश को ले जाकर कुएं में डाल दिया। कुछ देर बाद  ढाबा बंद करने का समय हूआ। ढाबे के मालिक ने सभी नौकरों को हिदायत दी कि यह बात किसी को पता नहीं चलनी चाहिए। वरना तुम्हारे पैसे काट लूंगा सभी नौकरों ने हामी भरी और अपने घर पर चले जाते हैं।
 
मालिक भी अपने घर की तरफ चलता है। मालिक को रास्ते में ऐसा लगता है। जैसे कोई उसके पीछे पीछे चल रहा है। तभी मालिक रुक जाता है और चारों ओर देखने लगता है पर वहां कोई नहीं दिखाई देता और फिर चलने लगता है। अचानक से उसे पीछे से कोई थप्पड़ मारता है। वह पीछे मुड़कर देखता है,और सोचता है कि शायद यह उसका भ्रम है। पर उसे कोई दिखाई नहीं देता वह जल्दी जल्दी चल कर अपने घर पहुंचता है।
 
घर पहुंचकर वह अपनी पत्नी से कहता है -“कि जल्दी से उसके लिए खाना लगए उसे बड़ी जोर की भूख लगी है।”
जैसी पत्नी खाना लेकर आती है। तभी भूतिया भिखारी उसकी पत्नी को जोर से धक्का देता है। जिसके कारण पत्नी के हाथ से सारा खाना गिर जाता है।वह ढाबा मालिक अपनी पत्नी पर चिल्लाता है।। और उससे कहता है-यह क्या कर दिया तुमने पत्नी कहती है -“,मुझे ऐसा लगा जैसे किसी ने मुझे धक्का दिया हो।”
 
अगली सुबह जब वह काउंटर पर बैठा होता है। तभी एक ग्राहक आता है। और कुर्सी पर बैठता है। और खाने का ऑर्डर देता है। खाना मूंह में डालते ही वह चिल्ला कर कहता है, कि यह कैसा खाना है, ग्राहक के चिल्लाते ही ढाबा मालिक नौकर को बुलाता है। उसे पूछता है कि उसने यह खाना खराब क्यों बनाया नौकर जवाब देता है कि उसने रोज की तरह ही खाना बनाया है। पर पता नहीं क्यों लोगों को खाना पसंद नहीं आ रहा ।रोज की तरह आज उसकी कमाई नहीं हुई और उसका सारा खाना फेंका गया भूत बना भिखारी यह देखकर बहुत ही खुश हुआ।
 
 अगले दिन मालिक अपने नौकर से कहता है- आज ऐसा खाना बनाना कि लोग उंगलियां चाटते रह जाए। और सभी नौकर खाना बनाने में लग गए खाना बन कर तैयार होता है खाने की खुशबू बहुत ही अच्छी आ रही थी ढाबा मालिक बहुत ही खुश होता है ,आज तो बहुत ही ग्राहक खाएंगे।
Ghost Stories for kids in hindi
तभी ढाबे पर एक ग्राहक आता है। और खाने का ऑर्डर देता है, खाने की खुशबू से ग्राहक बहुत ही खुश होता है ,और जैसे ही हो खाना खाना शुरू करता है। तभी उसकी थाली से अचानक रोटी गायब हो जाती है। और वह डर जाता है,की यहां क्या हो रहा है। वह नौकरों को आवाज लगाता है कि यह क्या हो गया मेरी थाली से रोटी कैसे गायब हो गई। नौकर कहता है आपने खाया होगा आपको याद नहीं पर वह ग्राहक जानता है कि उसने रोटी नहीं खाई और वह बिना खाए ही वहां से चला जाता है ।यह सब काम उस भूतिया भिखारी का था ।
 
 अब यह काम रोज का हो चला था ढाबे पर ग्राहक आते और डर की वजह से भाग जाते। और भूतिया भिखारी यह देखकर बहुत ही खुश होता।
 
एक दिन की बात है शहर से कुछ लोग गांव की तरफ जा रहे थे। उन्हें पप्पू का ढाबा दिखाई दिया उन्होंने का नाम काफी सुन रखा था तो वह ढाबे पर खाना खाने के लिए रुक गए और वह खाने का आर्डर करते हैं । नौकर खाना लेकर आता है। तो वह खाना खाने बैठते हैं। तो उनकी शाही पनीर की सब्जी चिकन की सब्जी में बदल जाती है। जिसे देखो घबरा जाता है ।पीने के लिए पानी का गिलास उठाते हैं, तो भूतिया भिखारी सारा पानी उनके सिर पर डाल देता है और वह जोर-जोर से चिल्लाने लगता है।
 
भूत -भूत कहकर वह शहर के लोग वहां से भाग जाते हैं। देखते ही देखते ढाबे पर अब रोज अजीबोगरीब घटनाएं होने लगी। लोग अब उसे भूतिया ढाबा कहने लगे। 
 
एक दिन मालिक ढाबे के गले से पैसे निकालने के लिए गल्ला खोलता है ,वह देखता है कि इसमें तो एक भी पैसा नहीं है और पैसे की जगह मालिक को उस भिखारी का सर दिखाई देता है। ढाबे का मालिक डर जाता है और भूत-भूत कहकर चिल्लाने लगता है। उसकी आवाज सुनकर वह पर जितने भी लोग वह पर थे सब उसके पास और उससे पूछते हैं आप इतने घबराए हुए क्यों हो। मालिक कहता कि हमारे गल्ले में भूत है। और यहां उस भिखारी की खोपड़ी रखी है। और पैसे गायब हैं यह सुन सारे लोग बहुत घबरा जाते हैं और ढाबा मालिक से कहते हैं ऐसा कैसे हो सकता है मालिक कहता है कि जाओ तुम खुद एक बार अपनी आंखों से देख लिया तब तुम्हें यकीन होगा और वहां उस करने में तुम्हें एक खोपड़ी मिलेगी और एक आदमी उसमें से आगे बढ़ता है और गला खोलता है तो उसमें उसे पैसे दिखाई देते हैं ना कि कोई खोपड़ी।
वह आकर ढाबा माली से कहता है आपकी तबीयत ठीक नहीं है आपने नींद में जरूर कोई सपना देखा होगा आपको आराम करने की जरूरत है अपनी बात पर पड़ा रहता है कि उसने उस गल्ले में पैसे नहीं देखे थे एक खोपड़ी देखी थी।वह सबको अपनी बात मनवाने की कोशिश करता है ,पर कोई बात नहीं सुनता है।
 
 तभी उसका नौकर उसके पास आता है । और आकर अपने मालिक से कहता है । यह कोई और नहीं यह वही भूखा भिखारी है जो ढाबे के बाहर भूख से मर गया था उसकी आत्मा ढाबे में घुस गई है और यहां पर होने वाली सभी घटनाएं यही बताती हैं कि यह वही भूखा भिखारी है जो अब भूत बन चुका है।
 
 मालिक को नौकर की बात पर विश्वास होता है पर वह कहता है कि अब भला क्या हो सकता है। अगर रोज ऐसा चलता रहा तो मेरा ढाबा बंद हो जाएगा और मैं पागल हो जाऊंगा।
 
नौकर मालिक से कहता है कि वह एक तांत्रिक को जानता है, जो काफी मशहूर है और वह इस तरह भूत भगाने का काम करता है। मालिक नौकर से कहता है। ठीक है फिर चलते हैं उनके पास।
 
 नौकर और उसका मालिक अगले ही दिन बाबा के पास पहुंचकर वह सारी बात सच सच बताते हैं। बाबा को बहुत ही गुस्सा आता है और वह कहते हैं कि यह तुमने क्या किया एक भूखे भिखरी को मार डाला उस भूखे भिखारी की आत्मा इसलिए तुम्हारे ढाबे के आसपास भटक रहीं हैं। और तुमने परेशान कर रही है।
 
 बाबा जी  हमसे गलती हो गई हमें माफ कर दो अब हम ऐसा हम कभी नहीं करेंगे आगे से। बाबा उस भिखारी की आत्मा को बुलाते हैं, वह आत्मा बहुत ही गुस्से में होती है।उस भूतिया भिखारी की आत्मा को देखते ही ढाबे का मालिक उससे हाथ जोड़कर माफी मांगता है और कहता है कि वह अब ऐसी गलती कभी नहीं करेंगा। बाबा अपने लोटे से जल छिड़ककर उस भिखारी की आत्मा को मुक्ति दिलाता है।
 
और उस ढाबे के मालिक से कहते हैं कि अब कभी तुम्हारे ढाबे पर कोई भिखारी खाली पेट न जाए Ghost Stories for kids in hindi

Webuakti Reed 

1 thought on “Ghost Story|Horror story|भूतिया ढाबा Hunted house”

Leave a Comment