how to use earphones without damaging ears ईयरफोन से नुकसान

How to use earphone

 क्यों एयरफोन कान के लिए हानिकारक है

How to use earphone रोज रास्तों पर आपको हजारों लाखों लोग दिखते होगे  जो कान में हेडफोन लगाकर घूमते हैं। आप भी ऐसा ही करते होंगे। क्या आपको पता नहीं की आजकल का य फैशन आपके लिए कितना खतरनाक हो सकता है। कई सालों में हेडफोन का प्रचलन बहुत तेजी से बढ़ा है ।और ऐसे कई लोग हैं जो है फोन से म्यूजिक बहुत ही लाउडली सुनते हैं। और अगर आप भी उनमें से एक हैं तो यह बात जानना आपके लिए बेहद जरूरी है how to use earphone

ईयरफोन की कितनी आवाज होनी चाहिए

यदि आप 90 डेसीबल की आवाज में हेडफोन पर  म्यूजिक की आवाज सुनते हैं।तो इतना जान लीजिए कि आप  नॉइस इनयुज हियरिंग लॉस Noise- Induced Hearing Loss के शिकार हो रहे और जल्दी ही आप बहरे होने वाले हैं। आपके ईयरफोन की आवाज केवल 40 डेसीबल से 50डेसीबल ही होनी चाहिए।

ईयरफोन की आवाज से नुकसान #1

आपके कान पुरी तरह से खराब हो सकते हैं। और आप पहले इंसान नहीं है जो ऐसा करते हैं। और ऐसे भी कई लोग हैं जो 100 डेसीबल से भी अधिक  आवाज में म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं। उन्हें तेज आवाज में गाना सुनना अच्छा लगता है लेकिन जब आप एयरफोन अपने काम से  निकालते हैं। तो आपने महसूस किया होगा कि आपके कान सुन्न हो जाते हैं। और इतनी तेज आवाज में गाने सुनने से आपके कान पूरी तरह से खराब हो सकते हैं।शायद आपको पता नहीं की आपके तेज आवाज में गाने सुनने की वजह से आपके सुनने की शक्ति खत्म हो सकती है ।

 ईयरफोन की आवाज से नुकसान #2

आप जीवन भर के लिए बहरे भी हो सकते है। हाल ही में एक रिसर्च किया गया था और उस रिसर्च में पता चला जो लोग रात में या दिन के समय लंबे समय तक हेडफोन का इस्तेमाल करते हैं।

उनके कान धीरे-धीरे सुन्न होने लगते हैं। आपने भी तो महसूस किया होगा जब आप बड़ी देर तक हेडफोन का इस्तेमाल करते हैं। और हेडफोन को कान से निकालते हैं तो आप बाहर की आवाज को कुछ देर तक सुन नहीं पाते ।और फिर कुछ समय बाद नॉर्मल तरीके से सुनाई देने लगती ऐसा इसलिए होता है ।क्योंकि आपका कान सुन्न होने से आपका दिमाग उन आवाजों को समझ नहीं पाता और हमें ऐसा लगता है कि हमें कुछ सुनाई नहीं दे रहा आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो जितनी जल्दी हो सके तो इस हेडफोन की लत को अपने आप से दूर  कर किजिए।

ईयरफोन की आवाज से नुकसान #3

हेडफोन ज्यादा इस्तेमाल करने वाले लोगों के मुंह से आपने हमेशा यह बात सुनी होगी कि। उन्हें कई बार अजीब आवाज सुनाई देती है। ऐसा लगता है कि कान के आस पास कोई मधुमक्खी घूम रही है और वह उनका पीछा कभी नहीं छोड़ती। यदि आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो समझ लीजिए कि अब आप हेडफोन से होने वाली बीमारी से पीड़ित हैं।

यदि आप भी हेडफोन लगाकर काफी देर तक लाउड म्यूजिक सुनते हैं ।तो आपने गौर किया होगा आपके कान के पास कुछ अजीब सी आवाज सुनाई देती होगी यह सारी चीजें आपके लाउड म्यूजिक सुनने की वजह से होती हैं। आपके कान के अंदर बहुत सारे hear sells होते हैं । जो कान के अंदरूनी हिस्से  में पाया जाता है। 

जब आप लाउड म्यूजिक सुनते हैं तब आपका दिमाग सही तरीके से समझ नहीं पता क्योंकि उसे कान के अंदरूनी हिस्से में कोई सिग्नल नहीं मिल पाता।

यह एक तरह की बीमारी है जो  हमेशा अधिक हेडफोन इस्तेमाल करने वाले लोगों में पाई जाती है। तो हमें पता होना चाहिए कि how to use earphone

हेडफोन लगाने के भयंकर नुकसान 

अब आपको बताते हैं कि how to use earphone हेडफोन लगाने से और कितने नुकसान आपको हो सकता हैं ।आप अपना हेडफोन अगर दोस्तों को दे देते हैं।तो इसे देना बंद कर दिजिए क्योंकि ऐसा करने से आपको काफी नुकसान हो सकता है। आप दूसरों के कानों में लगा हेडफोन अगर अपने कान में इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपको बीमारी हो सकती है क्योंकि कानों में लगा बैक्टीरिया आपके कानों में आ जाता है। और जिससे आपके कानों में इंफेक्शन हो सकते हैं।आप मानसिक बीमारी से पीड़ित हो सकतें हैं।आपको नींद नहीं आ सकती है। आप दिल की बीमारी से पीड़ित हो सकतें हैं।

हेडफोन की बीमारी से बचाव के तरीके

अगर आप अपने आप को इस बीमारी से बचाना चाहते हैं तो आपको पहले इस बात का ध्यान रखना होगा कि जितना हो सके उतना इसे कम इस्तेमाल करें जब जरूरी हो तभी इसका उपयोग करें।

आपको बता दें कि आपको अपने पूरे एक दिन में केवल 60मिनट ही इसका इस्तेमाल करना है।

और सस्ते ईयरफोन से बचें जब हम ईयरफोन खरीदने बाजार जाते हैं तो। हमें सस्ते ईयरफोन के बजाय एक अच्छा ईयरफोन खरीदना चाहिए।

इस लेख को लिखने का तात्पर्य यह है कि आप अपने आप को इस न समझने वाली आधुनिक युग की बीमारी से अपने आप को सुरक्षित रखें। तभी इस लेख को लिखने का फायदा होगा।खुद सुरक्षित रहे और देश को सुरक्षित रखें इस बात को अपने परिजनों को अवश्य बताएं।

धन्यवाद आपका लेखक 

 

Webuakti Reed:–

ब्लैक फंगस से बचाव 

स्वाइन फ्लू से बचाव

मलेरिया रोग से बचाव 

हिंदी कहानी बच्चों की प्रेरणादायक कहानी

 

Categories Health

Leave a Comment