short mystery stories in hindi रोमांचित कहानी

  यह कहानी एक short mistary Stories in Hindi है 

 

यह एक short mistary stories in Hindi है जो आपको आश्चर्य में डाल देगी क्या ऐसा कुछ हो सकता है। जिस वस्तु को देखने के बाद आप और सांइस समझ ही न पाए की। आखिर यह चीज है क्या तो चलिए इसे समझने के लिए आगे की Short mistary Stories in Hindi पढ़ते हैं।

 

 लेकिन कुछ लोग इसे अभी भी अनसुलझा ही मानते हैं। और यह पूरी मिस्ट्री एक चीज के चारों ओर घूमती है जो कि रोमन सभ्यता में पाई गई थी। यह चीज असल में सन्  79 में ज्वालामुखी के फटने से बाहर निकली थी।यह चीज बहुत ही नाजुक है और इसे किसी धागे के सहारे लटका कर इस्तेमाल किया जाता होगा।

 

 अब न सिर्फ यह एक सनडायल था। बल्कि इसके ऊपर एक कैलेंडर भी  छपा हुआ था जिसमें वर्टिकल लाइंस तारीख दर्शा रही थी। और हॉरिजॉन्टल लाइन उस दिन का समय बताती होगी। इसका इस्तेमाल करके लोग उस समय समय का पता लगाते होंगे।

 

  लेकिन अब यहां सबसे बड़ा सवाल यह था। कि Short mistary story in hindi अगर उस समय के रोमन लोगों के पास संदल थे तो आज तक उन्हें कोई और संडल क्यों नहीं मिला। जो लोग उस आइलैंड के आसपास रहते थे। वो लोग हमेशा लोगों को  वहां पर ना जाने की सलाह देते थे। 

क्योंकि उनका मानना था कि आईलैंड श्रापित है। और यहां पर सिर्फ भूतनियां रहती है। और इसी बात की उनके पास बहुत से सबूत भी थे ।है लेकिन फिर भी आरकेलॉजिस्ट की एक टीम ने इन सब को न मानते हुए।  उनकी एक टीम ने आइलैंड पर जाने को सोचा और इस गुफा में छानबीन करने लगे। और उनको यहां पर ऐसे तंत्र मंत्र  और रीति-रिवाजों के सुबूत मिले। जो कि तकरीबन 9000 साल पुराने थे 

 

इन गुफाओं में गहरे गहरे गड्ढे बने हुए थे ।जिनका मतलब अभी तक कुछ समझ नहीं आया इन गुफाओं के ऊपर हजारों साल पुराना पत्थरों से बना हुआ एक स्ट्रक्चर भी मिला इसके अलावा एक गुफा में तो एक थिएटर जैसा भी स्ट्रक्चर बना हुआ था। जांच करने पर पता चला है कि यह सभी पत्थर मैजोलिथिक स्टोनहेंज  के थे।

 

 इस गुफा में वैज्ञानिकों को पत्थर के हाथोडे भी मिले। लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये था कि पत्थरों का इतना बड़ा स्ट्रक्चर क्या था ?और इसे किसने क्यों? और कब बनवाया था?जो लोग यहां पर गए उन्होंने भी इन चीजों को देखकर अपना माथा पकड़ लिया।

 

 यहां रहने वाले लोग कहते हैं कि एक समय पर इस आईलैंड पर बेहद विशालकाय लोग रहा करते थे। और इतने सटीक तरीके से बनाया गया यह स्ट्रक्चर किसी आम आदमी के बस की बात नहीं है। लोग कहते हैं कि अगर स्ट्रक्चर से एक भी पत्थर गायब हुआ ।तो यह पूरा आईलैंड  फट जाएगा और इसीलिए किसी भी वैज्ञानिक या इंसान ने आज तक स्ट्रक्चर से कोई भी पत्थर बाहर नहीं निकाला ।

 

 Short mistary stories in Hindi

 आब बात करते हैं। हमारे भारत में बने पद्मनाभस्वामी मंदिर जो कि केरल राज्य में बना हुआ है ।अब न सिर्फ भारत के लोग बल्कि पूरी दुनिया मानती है कि इस मंदिर में एक कमरा बेहद रहस्यमय है। लोग मानते हैं कि इस कमरे में इतना खजाना मौजूद है कि वह पूरी दुनिया को अमीर बना सकता है। इसके अंदर सोने चांदी के भंडार भरे हुए हैं ।नेपोलियन के कॉइन कलेक्शन भी शामिल है।

 यह बात हम इसलिए बता रहे हैं। क्योंकि पहले भी इस मंदिर के कमरों को खोला जा चुका है। और इनमें से जो निकला वह सच में दिल दहला देने वाला था ।इतना खजाना एक साथ पूरी दुनिया ने कभी नहीं देखा था। लेकिन अभी आज भी दिक्कत सिर्फ यह थी कि जो कमरा आज बंद पड़ा है वह सिर्फ एक रहस्य को सुलझाने पर ही खुल सकता है। लोगों का मानना है कि कोई सिद्ध पुरुष ही इसे खोल सकता है। और वह कैसे कोई नहीं जानता अगर दरवाजे के साथ जोर जबरदस्ती की गई तो दुनिया में प्रलय भी आ सकती है।

 यह पूरा मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। और सदियों से ही यह मंदिर रहस्य से घिरा हुआ है। इस मंदिर पर रेफरेंस के तौर पर तमिल भाषा में बहुत कुछ लिखा गया है। और लोग मानते हैं कि यह लिखावट छठी शताब्दी में लिखी गई थी। लेकिन जो वैज्ञानिकों ने इस पर शोध किया तो यह उससे भी पुरानी निकली।

 इस मंदिर में छः ऐसे कमरे बने हुए थे। जिनमें से पांच खोले जा चुके है । लेकिन कमरा छठा अभी भी खोलना बाकी है। और बाकी सभी पांच में से अटूट खजाना निकाला जा चुका है। और अब पूरी दुनिया यह मानती है कि इतना खजाना इन पांच कमरों में से नहीं निकला होगा। जिस से कई गुना अधिक छठे कमरे से निकलेगा। क्योंकि इस दरवाजे पर बने बड़े-बड़े कोबरा सांप इस कमरे को श्रापित होने का संकेत देते हैं ।

 सन 1931 में इन दरवाजों को खोलने की कोशिश की गई। लेकिन तभी पता नहीं बहुत सारे कोबरा सांप वहां आ गए। जो शायद इसी कमरे में रहते होंगे ।और तब के बाद से कभी भी इन दरवाजों को खोलने की कोशिश नहीं की गई ।और आज भी पूरी दुनिया में इतना कोई बहादुर नहीं है जो इन दरवाजों को खोलने की कोशिश कर सकें । 

mistary stories in hindi about world

 इंग्लैंड में मौजूद कमब्लैण किले के अंदर खुदाई करने के लिए किले की संस्था और वैज्ञानिक सैनिकों के बीच डील हुई और इस खुदाई में वहां से बहुत सारा सामान निकाला गया और इसी सामान में कमाल के हॉट्स भी शामिल थे वैज्ञानिक इनको ऐसे ही नहीं खोलना चाहते थे क्योंकि उन्हें डर था कि उन्हें ऐसे ही खोला गया तो शायद यह टूट भी सकते हैं इसलिए सबसे पहले उनके ईको को इसका सच पता चला जो कि यह था कि यह चीज पहले किसी जहाज का हिस्सा हुआ करती थी ।और इसके अंदर भारी मात्रा में चांदी के सिक्के भरे हुए थे लेकिन पानी में पड़े रहने की वजह से जंग ने इन्हें अपना शिकार बना लिया था ।इसी वजह से यह बताना बहुत मुश्किल था कि असल में सिक्के हैं किसके ।अजीब बात यह थी की सिक्कों  में ड्रिलिंग मशीन से छेद में बनाए गए थे जिससे वैज्ञानिकों के दिमाग में आया कि सिक्को को जरूर जहाज पर किलो में गाडकर स्मगलिंग किया जा रहा होगा।

  क्योंकि इतिहास में सिक्को को इधर से उधर लेकर जाना पूरी तरह से बैन था क्योंकि ऐसा करने पर किसी भी देश की इकोनॉमी डाउन हो सकती थी लेकिन लोगों ने इस तरह से सिक्को को छुपा कर इधर-उधर करना शुरू कर दिया इसके बारे में और जानकारी मिलते ही मैं आपको जरूर बता दूंगा short mystery stories in hindi में ।

 

Webuakti Reed 

Horror story भूतिया भिखारी 

 Story kids 

अकबर बीरबल की कहानियां

महात्मा गौतम बुद्ध की प्रेरणादायक कहानी

 

Leave a Comment